IGST In Hindi – What is IGST, Integrated GST in Hindi (आई.जी.एस.टी.)

8

IGST In Hindi – What is IGST, Integrated GST in Hindi (आई.जी.एस.टी.). Check Complete details for IGST in Hindi, IGST Details in Hindi, Integrated GST Details in Hindi. Everything you want to know about IGST in Hindi. Hi Friends we already provide What is IGST – Integrated GST (Integrated Goods and Services Tax) IN English, Now here we are providing complete details for IGST in HindiIntegrated Goods and Service tax (IGST) Complete details in Hindi. Now check more details for “IGST In Hindi – What is IGST, Integrated GST in Hindi (आई.जी.एस.टी.)”

IGST In Hindi – What is IGST, Integrated GST in Hindi (आई.जी.एस.टी.)

आई.जी.एस.टी.

दो राज्यों के मध्य होने वाले व्यापार पर निगरानी रखने के लिए एक आई.जी.एस.टी. मॉडल भी तैयार कर प्रस्त्तावित किया गया है  जिसकी चर्चा  हम आगे कर रहे है  लेकिन यह ध्यान रखे  कि यह केन्द्रीय बिक्री कर के स्थान पर लगने वाला कोई नया कर  (एस.जी.एस.टी. एवं सी.जी.एस.टी. के अतिरिक्त तीसरा कर) नहीं है बल्कि एक ऐसा तंत्र है जिसके जरिये दो राज्यों के बीच हुए व्यापार पर नजर रखी जा सके एवं यह भी सुनिश्चित किया जा सके कि कर का एक हिस्सा  उस राज्य को मिले जहाँ अंतिम उपभोक्ता निवास करता है और दूसरा हिस्सा केंद्र सरकार को . 

जी.एस.टी. के तहत सूचना तकनीकी की सहायता से एक ऐसा तंत्र विकसित किया जाएगा जिससे दो राज्यों के मध्य माल एवं सेवा के अंतरप्रांतीय व्यापर पर निगरानी भी रखी जा सके एवं यह भी सुनिश्चित किया जा सके कि “कर” अंतिम उपभोक्ता के राज्य को मिल रहा है . यहाँ ऊपर पहले ही यह बताया जा चुका है कि यह केन्द्रीय बिक्री कर की जगह लगने वाला कोई नया कर नहीं है लेकिन यह “आई.जी.एस.टी.” भी उद्योग एवं व्यापार के लिए प्रक्रियात्मक उलझाने तो बढाने वाला ही है .

आइये देखे कि यह आई.जी.एस.टी.. मॉडल किस तरह से काम करेगा :-

(i). अंतरप्रांतीय व्यापर के दौरान बिक्री करने वाला डीलर अपने खरीददार से आई.जी.एस.टी. के रूप में एक कर एकत्र कर केन्द्रीय सरकार के खजाने में जमा कराएगा. इस कर की दर एस..जी.एस.टी. एवं सी.जी.एस.टी. की दर को मिलाकर बनेगी. उदाहरण के लिए मान लीजिये कि एस.जी.एस.टी. की दर 8 प्रतिशत है एवं सी.जी.एस.टी. की दर भी 10 प्रतिशत है तो आई.जी.एस.टी. के रूप में जमा कराया जाने वाला कर 18 प्रतिशत की दर से केंद्र सरकार के खजाने में जमा कराया जाएगा.

(ii). अपना आई.जी.एस.टी. जमा कराते समय विक्रेता अपने द्वारा इस माल ,को जो कि उसने अंतरप्रांतीय बिक्री के दौरान बेचा है, की खरीद पर चुकाए गये एस.जी.एस.टी. एवं सी.जी.एस.टी. की इनपुट क्रेडिट लेगा.

(iii) . विक्रेता का राज्य इस बिक्री किये गए माल के सम्बन्ध में विक्रेता ने जो विक्रेता राज्य में भुगतान किये गए एस.जी.एस.टी. की क्रेडिट ली है उतनी राशि केंद्र सरकार के खजाने में हस्तांतरित कर देगा.

(iv). अंतरप्रांतीय बिक्री के दौरान खरीद करने वाला क्रेता जब भी यह माल बेचेगा तो अपनी सी.जी.एस.टी. की इनपुट क्रेडिट  क्रमशः एस.जी.एस.टी. , सी.जी.एस.टी. या एस.जी.एस.टी. (इसी क्रम में ) की जिम्मेदारी में  से लेने का हक़ होगा .

 (v). जितनी राशि की इनपुट क्रेडिट अपनी एस.जी.एस.टी. चुकाते समय उपभोक्ता राज्य का व्यापारी आई.जी.एस.टी. में से लेगा उतनी रकम केंद्र उपभोक्ता राज्य के खाते में हस्तांतरित कर देगा इस तरह आई.जी.एस.टी. की इनपुट क्रेडिट क्रेता  आई.जी.एस.टी. की भुगतान की  जिम्मेदारी के लिए ले सकता है और ऐसी कोई जिम्मेदारी खरीददार की नहीं है तो इसका इनपुट सी.जी.एस.टी. या  एस.जी.एस.टी. के तहत भी लिया जा सकता है .

इस प्रकार एस.जी.एस.टी. के रूप में मिलने वाला पूरा राजस्व अंतरप्रांतीय व्यापर के दौरान भी उपभोक्ता राज्य को ही मिल जाएगा.

If you have any query regarding “IGST In Hindi – What is IGST, Integrated GST in Hindi” then please tell us via below comment box…

Must Read –

8 COMMENTS

  1. I am an online seller, selling my product from Rajasthan through amazon and flipkart. What type of gst should I charge if I sell my product to Delhi and other one to within the state of Rajasthan.

  2. SIR, MAIN GUJARAT MEIN HOO AUR HAMARA BUSINESS COMMERCIAL BUILDING CONSTRUCTION KA HAI. MUJHE YE JANANA HAI KI AGAYR MAIN APNI KOI MACHINE JAISE JCB, TATA HITACHI EXCAVATOR APNE DUSRE SITE JO KI GUJARAT KE BAHAR HAI YA YE SAMJH LE KI MUJHE APNE KARNATA KI SITE PAR BHEJNI HAI TO USKE LIYE KYA HAME TAX INVIOICE OF IGST KA BANANA PADEGA? AUR AGAR BANANA PADA TO KYA TAX LAGANA PADEGA?

    PLS. MUJHE YE BATANE KA PRAYASH KARE

  3. If talc manufacturer and exporter of Rajasthan, exporting goods (talc ) from Mundra port requires wooden pallets with packing at Mundra port.

    Wooden pallets packers/supplier is from Mundra port /Gujarat which tax will be applicable.

    Wooden pallets will be supplied at Mundra by the supplier located in Mundra ,and billing address wil be exporter located at rajasthan

    As same is being used by exporter hence he request for igst? Can we raise bill with igst

  4. Your comment is awaiting moderation
    sir main ye janna chhahta hun ki main agar koi vi khudra saman kharidta hun chahe uspar gst 18% hi qun na ho mujhe mrp se vi jyada chukana padega…kya?????????????
    pls jaldi batayin???????

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here